Thursday, 21 February 2013

राम नाम सत्य है


           राम नाम सत्य है !!!

मैं जो भी कहूँगा सच कहूँगा। सच के सिवाए कुछ नहीं। संयोग से मेरी बात गले न उतरे या असत्य सी लगे तो मैं कोई भी सजा भुगतने पर न तो शर्म करूँगा न दुख।
                   अशोक भैया - + 91 8447858941

          आप पहले व्यक्ति हैं जो हमें पढ़ रहे हैं। इसलिए मैं रौब से कह सकता हूँ कि एक चना भी भाण फोड़ता है। ऐसी ताकत, ऐसा पावर आपके पास भी है। आप अपने अन्दर के इस पावर का इस्तेमाल करके तो देखिए। हर इच्छा पूरी हो जाएगी, हर मुरादें मंजिल की ओर भागेगी। वैसे ग्रन्थ साहित्यों में तो इक्छापूर्ति के अनेक उपाय बताए गए हैं परन्तु पढने की फुरसत किसको है। कौन पोथियों में सिर खपाए ? 
          
          एक बार मैंने किसी से कहा - मैं सोने बनाने की कई विधियां जानता हूँ  तो बोले - मैं खुद क्यों न बना लेता सोना। मैंने कहा, वो तो बना ही लेता हूँ ..... मैं तो तुम्हेँ  सिखाने की बात कर रहा हूँ। तब पुनः वो बोले - सिखाने की क्या जरुरत है, बनाकर उसी में से थोड़ी दे देना। फुरसत किसे है, सिखने और सिखाने की। ये बुजुर्ग मानसिक विकलांग नीचले दर्जे के एक अध्यापक थे। ट्रेन में मुलाकात हुई थी। मैं तो चुप्प होकर उन्हें देखता रह गया था। दरअसल कोई खुद प्रयत्न करना नहीं चाहता, सब रेडीमेड चाहते हैं। 
          
          इधर लोग कहते हैं दुनिया में टेन्शन बहुत बढ़ गया है। तभी तो सन 2012 की तबाही को सोंच कर लोग डर और दुबक गए थे। लोगों ने सोंचा अब धरती ऊपर जाने ही वाली है और आसमान नीचे आ जाएगा। धत तेरे सोंच की। प्रलय प्रलय प्रलय, जो डरे थे वो लोग प्रलय का प्रचार करने में जुट गए थे। खुद भी डरे थे और दूसरों में भी डर पैदा कर रहे थे। आप समाज के साथ जी रहे हैं तो इस तरह के डर को अपने से जुदा रखिए। जिस दिन अभय बन जाएँगे उस दिन बहुत बड़ी ताकत आपके हाथों में होगी। डरे हुए को एक पत्ता भी डरा देता है। यदि डर को निकाल देंगे मन से तो महाकाल भी आपका कुछ नहीं बिगाड़ पाएगा। मैं गारन्टी लेता हूँ।
          
         मारा वही जाता है जो डरा सहमा हो। और डरता वही है जो गलतियां पे गलतियां करता रहता है। मैं तो कहता हूं कि, ईश्वर ने मानव तन में ऐसी ऐसी एनर्जी दे रखी है कि योगा विधि से उसे चार्ज करते रहो और इस्तेमाल करते रहो। जिधर नजर घुमावो उधर वार करो। जिधर देखो उधर सब सम्मोहित होकर रह जाय ...... और इसके लिए मैं आज एक छोटा सा परन्तु पावरफुल टिप्स बता रहा हूँ। इसे ट्राई करके देखिएगा। यह शरीर विज्ञान के अंतर्गत है। ये कोई जादू या तंत्र मंत्र नहीं है। 
          
          आप जब भी किसी से मिलिए और बात शुरू करिए तो सामने वाले की ललाट को देखते हुए करिए. ललाट यानी मस्तक के मध्य, जहाँ बिंदी या तिलक लगाया जाता है। अर्थात जब आपको अपनी बात कहनी हो तो अपनी दृढ़ दृष्टि सामने वाले की ललाट के मध्य में देखते हुए करें। (नोट - यह प्रयोग महिला या पुरुष, युवक या युवती कोई भी करके हाथो हाथ लाभ उठा सकता है ) यह प्रयोग पूरे आत्मविश्वास के साथ करे  सफलता तुरंत दिखेगा। ऐसा करेंगे तो आप उसी पल से उस पर हाबी होते जाएँगे। 
          
          क्योंकि आदमी की आँखों के सामने जो काली तिल भागती नजर आती है, वह तिल कोई साधारण नहीं है। यही तो वह पावर है जिसका विधि पूर्वक अभ्यास के द्वारा तिल को अपने कंट्रोल में कर लिया जाता है और उसका इच्छित लाभ लिया जाता है। ऐसे अभ्यास के बल पर ही सम्मोहन विशेषज्ञ  भी बना जाता है। इसमें कहीं तंत्र मंत्र नहीं बल्कि यह नेत्रों का एक योगा है जिसे त्राटक कहा जाता है। इसके विधि पूर्ण अभ्यास से बिमारियों पर भी काबू पाया जा सकता है और मनोकामनाओं की पूर्ति भी की जाती है. 
          
          लेकिन आप इतना बिजीमैन हैं कि, यह जानने के लिए भी समय कहाँ। दिन भर टेन्शन ही टेंशन। और टेन्शन से ही घिरे रहेंगे तो 2012 की बात प्रलय ही तो लगेगी। घर में तनाव, मोहल्ले में मारा मारी, आफिस में झमेला इत्यादि। एक युवक हमसे बोला कि, हमें इन्टरवीऊ पर जाना है, कोई ऐसा मंत्र बता दीजिए ताकि जबर्दस्त सफलता मिले। मैंने बताया - ॐ क्रीं क्रीं क्रीं क्रीं    जब घर से निकलना तो इसका मन ही मन शुद्ध उचारण करते हुए आफिस  तक जाना, 90 % की गारंटी होगी। महीने बाद वो लड़का मिला तो बोला - भैया मेरा काफी काम बना है, लीजिए लड्डू खाइए।
          
         इसे सिर्फ पढ़ाई और इंटरवीऊ में ही नहीं, किसी भी मामले में पूरी सफलता के लिए करिएगा। आपको शत-प्रतिशत लाभ मिलेगा। अभी हाल ही में एक आदमी मिला जो तेजी में जा रहा था। हमने पूछा तो वह बोला- मेरी चाची  (गैस ) की पुरानी मरीज हैं। पुराना रोग है, जा रहा हूँ  डाक्टर के पास। मैंने कहा, मैं भी बतादू कुछ। तो बोला - बताइए। मैंने बताया-  प्रातः के समय 50 ग्राम मुली का बीज लेकर 200 ग्राम पानी में उबालना है। पानी जब आधी रह जाए तो उसे छानकर उसका पानी रोगी को खाली पेट पिलाना है। ऐसा नियमित रूप से एक माह तक करने पर गैस की वीमारी का विनाश हो जाएगा। 
          
          अगर आपको हमारा नुस्खा दमदार लगे तो किसी ऐसे बिमार व्यक्ति को जरुर बतादें, वह स्वस्थ हो जाएगा  और आपको दुआएं देगा। इस तरह से आपको भी सेवा का अच्छा मौका मिल जाएगा। अन्य किसी विषय या बिमारी के सम्बन्ध में सलाह के लिए निःसंकोच फोन कर लें। हमारा सहयोग मिलेगा।

नोट- यह आपार हर्ष का विषय है कि, हमने अपने पूर्व सूचना के मुताबिक त्राटक ज्ञान के साथ सम्मोहन, वशीकरण, कुंडलिनी जागरण का 30 से 45 दिनों का विशेष कोर्स जारी कर दिया है। इस दुर्लभ त्राटक सम्मोहन कोर्स को अनेक प्रांतों के भाई बंधु और शुभचिंतक लगन पूर्वक कर रहे हैं। अतः मंगल कामना हैं इनकी सफलता के लिए तथा आपके लिए हार्दिक कामना है आपके आगमन के लिए। क्योंकि आप दुनिया से बहुत कुछ हासिल कर सकते हैं परन्तु ऐसा अद्भुत और दुर्लभ ज्ञान कहीं और से प्राप्त करना बहुत ही कठिन है। नामुमकिन भी मान लीजिये। इस सम्बन्ध में किसी भी जानकारी के लिएआप बेहिचक हमें फोन कर सकते हैं। आपको हमारा भरपूर सहयोग प्राप्त होगा, भरोसा रखें।    
                                                              हमारा जीमेल एड्रेस ashokbhaiya666@gmail.com

 आप हमारे फेसबुक पेज से जुड़कर अपनी समस्याओं के समाधान और अन्यानेक लाभ उठायें. इसके लिए फेसबुक मेंashokbhaiya666@gmail.com टाइप करें. हमारे फोटो को क्लिक करें, प्रोफाइल में जाकर फ्रेंड रिक्वेस्ट करके जो भी मैसेजदेना हो दे दीजिये. तथा हमारे विशेष वेबसाइट से भी लाभ उठाये. www.ashokbhaiya999.com

अशोक श्री   9565120423  दिल्ली, ऋषिकेश, मऊ, बलिया 

1 comment: