Thursday, 23 July 2015

शराब छोड़ने का तरीका

शराब छोड़ने का तरीका

             

        शराब छोड़ने का तरीका 
       

           यदि आपके घर में या आस-पड़ोस में किसी को शराब की लत लग गई हो तो घबराने की या चिंता करने की बात नहीं हैl  रोज सुबह शाम एक सेब को पानी में उबालें और उसे उस व्यक्ति को खिलाएं। ऐसा एक महीना लगातार करें l आप देखेंगे उस व्यक्ति की इच्छा शक्ति शराब की ओर से कम होती जा रहा है l 

            यह आजमाया हुआ सही नुस्खा है l मात्र एक महीने में व्यक्ति अपने आपको इतने सुधार में पाएगा की हैरत वाली बात दिखने लगेगी l इसलिए आप निश्चिंत होकर यह तरकीब अपनाएं पूरी सफलता मिलेगी l आप कुछ और बातों पर ध्यान देंगे। ऐसे आदमी को कभी भी डाट - फटकार न लगाएं l इनसे  सहज रूप से ही बात करें l किन्तु पीने  की बात को शिकायत के तौर पर जरुर महसूस कराएं l और कोशिश करें की वह खाली पेट कभी न रहे.

            इसी में कुछ और तरीके हैं जिन्हें अजमाया जाना चाहिए l रात में सोने के बाद ऐसे व्यक्ति के कमरे में कपूर जलाएं ताकि उसका धुवाँ चारो तरफ फ़ैलता रहे l ऐसे व्यक्ति को हमेशा जायफल ओर लवंग चूसने की आदत डालनी चाहिए l इससे एक और फायदा होता है की मुंह की बदबू और बीमारी ख़त्म होकर व्यक्तित्व शानदार बनने लगता है l उस आदमी की हर तरफ पूछ-ताछ होने लगती है l स माज से इज्जत मिलने लगती है l और देखते ही देखते खुद वह नशे  का लत वाला व्यक्ति एक सामाजिक इन्सान बनकर परिवार और समाज के साथ मिलकर जिंदगी को बनाता चला जाता है l 

          ये हमने कोई कहानी या ड्रामा नहीं लिखा है, ये प्रेक्टिकल बातें हैंl ये बहुतों पर आजमाया हुआ  है l आप  निश्चिंत होकर ऐसा प्रयोग करें कराएं, शत - प्रतिशत लाभ मिलेगाl यदि  इस विषय में हमसे कुछ जानना पूछना हो तो बेहिचक फोन करके पूछ  सकते हैं l


विशेष - हमारे इस वेबसाइट को भी चेक करें. www.ashokbhaiya999.com इस पर शराब छुड़ाने के कई और सटीक उपाय दिया गया है.

अति विशेष - हमारे ब्लॉग साइट और वेबसाइट पर दिए प्रयोग को नशा लिप्त रोगी पर अवश्य आजमाएं आपको सन्तुष्टिजनक लाभ प्राप्त होगा. अथवा संस्थान द्वारा शोध किया नशा मुक्ति चूर्ण को प्राप्त करके रोगी को बिना बताये एक माह तक एक चम्मच खाने पीने की चीजों में मिलाकर दें तो ईश्वर कृपा से वह नशा लिप्त पुरुष या स्त्री अपने नशे की लत को सदा के लिए लात मारने लगेगा. अन्य जानकारी के लिए निःसंकोच हमें फोन कर लें. 

                                               

                                                                                   मो0 न0  9565120423 अशोक भैया,   ऋषिकेश   

Thursday, 9 July 2015

HIPNOTIJM KA KARISHMA



           त्राटक से ही खुलेंगा 
                        
             भाग्य का फ़ाटक

                                (त्राटक का अर्थ है) 

 बिना पलक गिराये किसी बिंदु पर देखते रहना .


पृथ्वी पर मनुष्य ही एक ऐसा प्राणी है जो हर नामुमकिन को मुमकिन कर सकता है। हर असंभव को सम्भव कर देने वाला प्राणी साधारण नही बल्कि असाधारण होता है. क्योंकि वह दुर्गम शक्तियों क मालिक होता है. 

मनुष्य के शरीर से प्रायः हिप्नोटिक तरंगें निकलतीं रहतीं है. यह तरंगे वायु वेग के साथ ब्रह्माण्ड में क्रियाशील रहतीं है. कुछ लोगों में हिप्नोटिक तरंग कम तो कुछ में ज्यादा होता है. इसी कारण कहीं भी कभी भी अधिक तरंगों वाला व्यक्ति कमजोर तरंगों वाले व्यक्ति पर तुरंत हॉबी हो जाता है. जिसका परिणाम होता है कि कमजोर तरंग वाळा व्यक्ति को झुकना पड़ जाता है. यानि आपके सम्मुख वह चुप्पी साध लेता है तथा आपकी हर बात, आज्ञा आदेश को स्वीकार करना ही पड़ता है. 


यह आपका सौभाग्य है कि इस लेख के माध्यम से हम स्पष्ट करेंगे कि, यह हिप्नोटिक तरंगें आपके अंदर कैसे मजबूत और प्रबल बनेगी ताकि आप सामने वाले पर आसानी से हॉबी हो जाएं. आप उसपर भारी पड़ जाएं. पहले के युग में दूसरोँ पर हॉबी होने के लिये विभिन्न युक्तियाँ अपनाते थे लोग. परन्तु अपने शरीर में स्थित हिप्नोटिक ऊर्जा तरंग यानि संमोहन तरंग को समझना, उसे शक्ति शाली बनाना बहुत ही सरल है. इस उपलब्धि से इस प्रयोग से आप (पुरुष हैं य स्त्री) किसी को भी अपने पूर्ण वश में कर सकते हैं. दूसरों के मन की बात समझ सकते हैं. किसी पर भी हावी हो सकते है. अपने अन्दर के भय को समाप्त कर सकते हैं. किसी भी पुरुष या स्त्री को सम्मोहित कर सकते हैं. 

बिमारियों से मुक्त और स्वस्थ होकर दैवीय शक्तियों का आशीर्वाद प्राप्त कर सकते हैं. किसी भी जटिल समस्या क रहस्य जान सकते हैं. शरीर में स्थित कुण्डलिनी चक्र को जागृत कर दुनिया में  विशेष बन सकते हैं. अपनी गुरुत्वाकर्षण शक्ति कम करके आत्मज्ञानी बन सकते है. अपनी नेत्रों में चमक, वाणी में मधुरता, सुनने और सूंघने की शक्ति में भारी सफलता प्राप्त किया जा सकता है. यह ध्यान देने वाली बात है कि, यही स्थिति सम्मोहन विज्ञान का पहला कदम है.  यही होता  है कि, आपके अन्दर का नेगटिव कचड़ा साफ़ हो जाता है तथा आपकी सकारात्मक ऊर्जा शक्तिशाली बन जाती है. आप जिधर भी नजर घुमाते हैं उधर के लोग पुरुष हो या स्त्री सभी स्तब्ध रह जाते हैं. अपने आप सब कुछ होता चला जाता है. स्थिति आपके अनुकूल बन जाती है. और अब यही होगा. इसमें कोई संदेह नहीं। हम आपके साथ हैं. 

आपको हमारा एक पथ प्रदर्शक की  तरह से सहयोग मिलता रहेगा. आप निश्चिंत रहिये. यदि आप हमारे कुछ सुझाओं का पालन करें तो मैं दावा करता हूँ , आपकी चक्र कुण्डलिनी स्वतः जागृत होने लगेगी.

1-आप अपने विचार को हमेशा तनाव मुक्त रखें. 2- हमेशा सत्य बोलने की आदत डालें. 3- स्वक्छता क ध्यान रखें. 4- जब भी सोएं तो चैतन्य मन्त्र को उच्चारण करते हुये सोये. (ओम चैतन्य चैतन्य स्वाहा ) खान पान रहन सहन, वस्त्र ओर विचारों में सादगी बनायेँ रखें. 5- कम बोलने की आदत बनायें. 6- कहीं भी, कभी भी व्यर्थ हरकतें न करें. जैसे- उंगुलियां चटकना, पैर हिलाना, गीत गुनगुनाना, चौकना, हिलना,  आदि क्योंकि गंभीरता ऐसी होनी चाहिए कि आप जब सड़क पर चले तो लोग आपको मुड़ मुड़ के देखे. 7- किसी की भी चुगलई और आलोचना से बचें. 8- अपनी किसी प्रशंसा पर गुमां न करें. 9- गलती होने पर माफ़ करना ओर माफ़ी मांगने को जीवन में उतार लेना. 10- गरीब और निर्बलों से सहानुभूति रखें. 11- अफवाहों को हवा न देना, बल्कि अपनी आँख कान पर भरोसा रखें.  12- समय की कीमत को समझें. 13- अपनी जुबान को महत्व दें. 14- श्रेष्ठता का दर्जा पाने के लिए मेरुदण्ड को सिधा रखते हुए कहीं भी बैठे. और लौंग, इलायची, दालचीनी या जायफल चूसते रहने से आपसे मिलने वाले लोग सम्मोहित होते रहते हैं. 

नोट - हमारे बहुत से शुभचिंतको की सलाह और मांग पर घर बैठे सम्मोहन शिक्षा का 30 से 45 दिनों का कोर्स पैकेज बनाया गया है. जिसे आप अपने स्थान से ही हमारे मार्ग निर्देशन में सिख समझकर जीवन को अद्भुत बना सकते हैं और दुनिया में बहुत कुछ कर सकते हैं. और यह सौभाग्य है कि नेट सुविधा के कारण आप हमारे सम्पर्क में हैं तथा दुनिया से लुप्त होती सम्मोहन विद्द्या को हमारे व्यक्तिगत सलाह निर्देशन में आप प्राप्त कर सकते हैं. दरअसल सम्मोहन, वशीकरण, टेलीपैथी ओर चक्र जागरण आदि ये सभी एक दूसरे से जुड़ा हुआ विषय है.  आप जब अभ्यास आरम्भ करते हैं तो सभी विद्द्याओं के रहस्य आप समझने लगते हैं. चुकि आपसे हमारा सम्पर्क इतेफाक है. किन्तु आगे जो होगा अद्भुत अविस्मरणीय। हमारा आपसे नेट और फोन के जरिये सम्पर्क बना रहेगा. सम्मोहन अभ्यास सही विधि और समुचित तरीके से हो, नेत्रों को किसी प्रकार का नुकशान न हो, हमारा मार्ग दर्शन आपको मिलता रहेगा. 

अतः आप दुनिया को हैरत में डालने वाला सम्मोहन शिक्षा प्राप्त करना चाह्ते हैं तो हमारे नम्बर पर फ़ोन कर सकते हैं. 9565120423 - अशोक भैया, गोरखपुर, ऋषिकेश, हरिद्वार, दिल्ली और  मऊ  
इसी के साथ - मंगल कामनाओं सहित- अशोक भैया 
आपका हमारे फेसबुक पेज से जुड़ना आवश्यक है. ताकि आपको अनेक प्रकार के भी लाभ मिलता रहे. इसके लिए फेसबुक में ashokbhaiya666@gmail.com टाइप करें. हमारे फोटो को क्लिक करें, प्रोफाइल में फ्रेंड रिक्वेस्ट ऑप्शन क्लिक करके अपने मैसेज दे दीजिये. आपको हमारा सहयोग मिलता रहेगा. तथा हमारे विशेष वेबसाइट से भी लाभ उठाये. www.ashokbhaiya999.com